कार्यालयों से फरार मिलें अधिकारी, तो करें फूटेज भेजने की तैयारी

जब सरकारी गाड़ियों का दुरूपयोग करें अधिकारी,

तो करें फूटेज भेजने की तैयारी,

कहीं भी दिखे कुव्यवस्था

तो करें विडियो रिकॉर्डिंग की तत्काल व्यवस्था   

जनता की समस्याओं और प्रशासनिक नकारेपन को देखते हुए पालीगंज एक्सप्रेस ने सभी लोगों की आवाज़ को एक नया मंच प्रदान करने की एक कोशिश की है. जनप्रतिनिधियों की लगातार उपेक्षा और कार्यालयों में व्याप्त भ्रष्टाचार से निजात दिलाने का एक प्रायोगिक प्रयास है पालीगंज एक्सप्रेस. कार्यालयों से फरार लोकसेवकों का मामला हो या मौन भ्रष्टाचार का, रिश्वतखोरी का मामला हो या सरकारी गाड़ियों के दुरूपयोग का, आप हर अनुचित गतिविधियों का विडियो फुटेज हमें तत्काल भेज सकते है. हम आपका नाम और पता गोपनीय रखने के प्रति वचनबद्ध हैं. राजस्वकर्मियों के दलालों की सक्रियता हो या अंचलाधिकारी की संलिप्तता से दाखिल ख़ारिज में रिश्वतखोरी का कहर, धन-क्रयकेन्द्रों में बिचौलियों की संलिप्तता हो या जनप्रतिनिधियों की सगे-सम्बन्धियों के माध्यम से धांधली में सक्रियता, आप हर गलत कारनामों के विडियो फुटेज हमें ईमेल करे. बंद स्वास्थ्य केन्द्रों की बात हो या फरार पशुचिकित्सकों की, गायब रहनेवाले डॉक्टर्स का मसला हो या बंद आंगनबाड़ी का, आप हमें इन लापरवाह कार्यकलापों का बेहिचक विडियो तैयार कर ईमेल करें. हम आपकी शिकायत को आवाज़ देंगे, अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों तक आपकी शिकायत पहुँचाने और आपकी मुहिम को सार्थक अंजाम तक पहुंचाने की कोशिश करेंगे. आप विद्यालयों से फरार रहनेवाले शिक्षकों और खाली क्लासों की रिकॉर्डिंग भी हमें भेज सकते हैं. हर उन गतिविधियों की फुटेज की हमें प्रतीक्षा है जिससे आम जनजीवन प्रभावित होता है, आम जन परेशान होते हैं. हम सिर्फ व्यक्तिगत जीवन से जुड़े वैसे रिकॉर्डिंग स्वीकार नहीं करते जिससे निजता का हनन होता है. लेकिन मानवाधिकार  हनन से जुड़े हर मामलों के फुटेज हमें स्वीकार हैं. फुटेज अनएडिटेड (अनडॉक्टर्ड ) होनी चाहिए, विजिबिलिटी और ऑडियो क्लियर होना चाहिए. हम फुटेज की सत्यता की जांच करेंगे. फुटेज भेजनेवाले का नाम और पता सीडी या ईमेल के साथ अंकित होना चाहिए.

आप हमें अपने क्षेत्रों में फैले अवैध नर्सिंग होम्स, खाद और सीमेंट की कालाबाजारी और सीबीएसई स्कूल के एक भवन की मान्यता पर संचालित कई भवनों के फुटेज भेज सकते हैं. निजी विद्यालयों के शोषित शिक्षक को भी हम मंच देने की कोशिश करेंगे. विद्यालयों या कोचिंग संस्थानों के शोषण या ठगी के शिकार अभिभावक या छात्र-छात्राएं भी अपनी लिखित प्रामाणिक शिकायत या सम्बंधित संस्थानों की गुमनाम कारगुजारियों की विडियो रिकॉर्डिंग हमें ईमेल कर सकते हैं. निर्धारित संख्या से अधिक बच्चों का नामांकन और शिक्षकों के वेतन से एक निश्चित राशि की काले दरवाजे से वापसी की खबर की हमें प्रतीक्षा होगी.

विद्यालयों में निर्धारित पंजीयन एवं परीक्षा शुल्क से अधिक राशि की वसूली की खबरें आतीं रहीं हैं. छात्र और अभिभावक शोषण की इस दर्दनाक दास्ताँ को विडियो में कैद कर हमें इमेल कर सकते हैं. रिश्वत माँगनेवालों की बातें विडियो कैमरे या मोबाइल में कैद करें और इसे अविलम्ब ईमेल करें. और कई विकल्प खुले हैं, आप अपनी शिकायत पुलिस या निगरानी से भी कर सकते हैं. साहस दिखाने का वक़्त है, क्योकिं अन्याय और अराजकता चरम पर है. 

शोषण से मुक्ति, पारदर्शी व्यव्स्था की स्थापना और अव्यवस्था के खिलाफ हम हर मुहिम को गति देने को संकल्पित हैं.

कुछ कदम हम चलें, कुछ कदम आप चलें और एक ऐसा कारवां बने की भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग का सामूहिक एलान हो जाये, भ्रष्टाचार का खात्मा हो जाये. हम भ्रष्टाचारियों के खिलाफ भुक्तभोगियों के मन में बैठे भय को निकालना चाहते है, हम पुलिसिया कार्रवाई में कोताही बरतनेवाले और सड़कों पर शोषण करनेवाली जुल्मी पुलिस को बेनकाब करना चाहते हैं. लेकिन उन लोकसेवकों, पुलिसकर्मियों को प्रोत्साहित भी करना चाहते हैं जो कर्तव्यनिष्ठ हैं, ईमानदार और समर्पित हैं. निष्ठावान लोगों से भी दुनियां खाली नहीं हुई है.

आप अपने आसपास में घटनेवाली हर खबर को प्रामाणिकता के साथ घर बैठे हम तक पहुंचा सकते हैं. हमारा ईमेल है: paliganjexpress@gamil.com

आप भी हैं हमारे रिपोर्टर. हम हर पंचायत और गाँव तक अपने रिपोर्टर को जिम्मेदारी देनेवाले हैं, ताकि आप आपनी परेशानी हम तक अविलम्ब पहुंचा सके, ताकि आपकी समस्याओं पर हम उच्चाधिकारियों और जनप्रतिनिधियों से अविलम्ब सवाल पूछ सकें, दोषी कर्मी के खिलाफ मामला को संज्ञान में ला सकें. निडर रहें, साहसी बनें और भ्रष्टाचार पर करार प्रहार करें. आप लोकतंत्र के मालिक हैं, आपके अधिकार भी हैं, कर्तव्य भी हैं.

हमारा ईमेल है: paliganjexpress@gamil.com

One thought on “कार्यालयों से फरार मिलें अधिकारी, तो करें फूटेज भेजने की तैयारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *