पालीगंज में नर्सिंग कॉलेज की संभावित स्थापना पालीगंज में नीतीश की बढ़ती व्यक्तिगत रुचि का परिणाम.


पालीगंज में नर्सिंग कॉलेज की संभावित स्थापना पालीगंज में नीतीश की बढ़ती व्यक्तिगत रुचि का परिणाम है. स्थानीय प्रतिनिधि को न तो निर्देश का अधिकार, न ही निर्देश की अहमियत. यह पूरी तरह सरकारी पहल है और 2020 के चुनाव में पालीगंज को नीतीशमय करने की रणनीति. तब राजद नहीं होगा जदयू के साथ: बी. बी. रंजन.
मैं जमीन का डेटा पहले ही भेज चूका हूँ, मिट्टी का नमूना भेजना मेरा काम नहीं. विधायक से कोई निर्देश नहीं मिला है: अंचलाधिकारी. पालीगंज (१८ जून 2017, 9:16 बजे प्रातः).

Image may contain: 4 people, people smiling, people standing

पालीगंज में नर्सिंग कॉलेज की स्थापना की बन रही संभावना एक सरकारी पहल है. पालीगंज शैक्षणिक सस्थानों के क्षेत्र में उपेक्षित अनुमंडल है, पालीगंज के अनुमंडलीय अस्पताल को अन्य अस्पतालों की तरह 100 बेड में कन्वर्ट नहीं किया गया.  इसलिए अनुमंडल में नर्सिंग कॉलेज की स्थापना का अपना आधार बनता है.
यह पूरी तरह एक विभागीय पहल है और पालीगंज में नीतीश कुमार के लगातार दौरे से यह स्पष्ट है कि 2020 के चुनाव में पालीगंज उनके लिए महत्वपूर्ण हो चुका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *