हर एक व्यक्ति की जान कीमती है थानेदार ……. :बी.बी. रंजन.

हर एक नारी की अस्मत प्यारी है. हर एक मानव की जान कीमती है. पुलिस अफसरशाही बघारने के लिए नहीं बैठायी गयी है. ‘आपकी सेवा में सदैव तत्पर’ का अर्थ पुलिस को खुद समझने की जरूरत है. यदि पुलिस इस अर्थ को नज़रअन्दाज़ करने की कोशिश करे तो प्रतिनिधियों की जिम्मेदारी बढ़ जाती है, लेकिन जब प्रतिनिधि भी लापरवाह हो जाएँ तो मीडिया को अपने दायित्व का निर्वहन करना पड़ता है. जनसेवा के तथाकथित ठेकेदारों की भ्रष्टाचारियों से मिलीभगत की प्रामाणिक खबरों के बाद मीडिया की सक्रियता जरूरी है. 

दुल्हिनबाज़ार में एक लड़की की अस्मत से खिलवाड़ प्रशासनिक विफलता की धज्जियाँ उड़ा गया. थानेदार के द्वारा शराब के कार्टूनों की चोरी के बाद पुलिस के ऊपर लोगों के कायम अविश्वास का घातांक बढ़ गया.  पालीगंज में चोरियों के उदभेदन में नकारा पुलिस जनता में असुरक्षा का बोध करा गयी. पालीगंज अनुमंडल के कई क्षेत्रों में अवैध शराब के  निर्माण और आपूर्ति की घटनाओं पर मौन प्रशासन जनता के मन में आतंरिक आक्रोश पैदा कर गया. इन सारी जनविरोधी गतिविधियों के बावजूद प्रतिनिधियों को सांप सूंघ गया है. प्रतिनिधि भ्रष्टाचारियों के साथ बैठकी लगाते हैं, 

                                                         ……uploading  जारी …..

One thought on “हर एक व्यक्ति की जान कीमती है थानेदार ……. :बी.बी. रंजन.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *